यूएफबीयू के बैनर तले बैंक कर्मियों का बोकारो में विरोध प्रदर्शन..

Business, Strike

बोकारो : यूएफबीयू के बैनर तले सोमवार को चास, बोकारो स्थित कैनरा बैंक, नया मोड़ के समक्ष भारी संख्या में पहुंचे बैंक कर्मियों ने प्रदर्शन किया. यह प्रदर्शन पूर्व निर्धारित आंदोलनात्मक कार्यक्रम के तहत किया गया. आपको बता दें की 11 से 13 मार्च तक बैंकों में धरना प्रदर्शन के कारण कामकाज प्रभावित रहेगा.

क्या है यूएफबीयू..

यूनाईटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स (यूएफबीयू) बैंकों में कार्यरत सभी यूनियनों का यूनाइटेड फॉरम है. इस फॉरम में एआईबीईए, एआईबओसी, एनसीबीई, बीईएफआई, एआईबीओए, एनओबीओ, एनओबीडब्ल्यू, आईएनबीईएफ, आईएनबीओसी जैसे अन्य संगठन भी शामिल है.

क्या है इनकी मांगे..

गौरतलब है कि हाल ही में 31 जनवरी व 01 फरवरी को वेतन पुनरीक्षण समझौते के साथ 12 सूत्री मांगों के समर्थन में को दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल किया गया था. यह हड़ताल इंडियन बैंक एसोसिएशन द्वारा 13.5 प्रतिशत की वेतन भत्ते में बढ़ोत्तरी, पांच दिवसीय बैंकिंग सप्ताह करने, मूल वेतन पर लोड बढ़ाने, नयी की जगह पुरानी पेंशन स्कीम को लागू करने आदि के नकार दिए जाने के बाद की गई थी. और 11 से 13 मार्च को भी इन्हीं सभी मांगों को लेकर एकबार फिर देशव्यापी हड़ताल बुलायी गई हैं.

इंडियन बैंक एसोसियेशन के जिला संयोजक ने कहा कि तीन दिनों के बैंक बंद की घोषणा के बाद भी सरकार की तरफ से कोई पहल देखने को नही मिल रही है. अत: भारत सरकार का यदि यही रवैया रहा तो 1 अप्रैल से हमलोग अनिश्चितकालीन देशव्यापी हड़ताल पर जाएंगे. उन्होंने आगे कहा कि 11 मार्च से पहले भी हम जगह-जगह धरना प्रदर्शन करने वाले हैं.

इस प्रदर्शन को सफल बनाने में एसएन दास, राघव कुमार सिंह, राजेश कुमार सिन्हा, विनोद कुमार सिन्हा, राजेश ओझा, शिव शेखर प्रसाद, एसपी सिंह, प्रदीप झा, अवधेश कुमार, विभाष झा, नीरज तिवारी, अजित कुमार सिंह, रणधीर मिश्रा, गुंजन वर्मा, राकेश मिश्रा, मनमीत कौर, कुमारी प्रियंका, एंजिला घासी, सुधा कुमारी, संगीता मंडल, दिव्या कुमारी, श्वेता कुमारी, सुरभी कुमारी आदि उपस्थित थे.

Leave a Reply