चुनावी अखाड़े में तब्दील हुआ फेसबुक और ट्विटर, सोशल मीडिया पर जमकर हो रहा चुनाव प्रचार..

Bokaro, Social Media, write-up

इस बार का चुनावी दंगल रैलियों और सभाओं के साथ-साथ, सोशल मीडिया पर भी देखने को मिल रहा है| क्या फेसबुक क्या ट्विटर, हर प्रत्याशी मानो चुनाव प्रचार कर रहा है| उम्मीदवार के साथ उनके समर्थक और कार्यकर्ता दिन-रात सोशल मीडिया पर प्रचार अभियान में जुटे हैं| रोजाना फोटो, वीडियो औऱ चुनावी गतिविधियों वाले कई पोस्ट फेसबुक, ट्विटर, और इंस्टाग्राम पर देखने को मिल रहे हैं जिस जनता भी खूब लाइक और शेयर कर रही है|एक ओर जहां सत्ताधारी दल अपनी खूबियां गिना रहा है वहीं विपक्षी दल मौजूदा सरकार की खामिया निकाल रहा|

निर्वतमान विधायक बिरंची नारायण सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव नजर आ रहे हैं| फेसबुक और ट्विटर पर उनके द्वारा लगातार, हर चुनावी गतिविधि की बातें शेयर की जा रही है| बिरंची नारायण अपने पोस्ट में ‘अबकी बार 65 पार’का हैसटैग इस्तेमाल कर चुनाव में भाजपा के दोबारा सत्ता में आने की बात कह रहे हैं| यहां तक कि अपने अगले सभी चुनावी सभा और रैलियों के बारे में पहले से ही जानकारी दी जा रही है तथा ज्यादा से ज्यादा जनता तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है| बिरंची नारायण के समर्थकों ने आगामी 25 नवंबर को विधायक द्वारा नामांकन दाखिल करने का आह्वाहन अभी से किया जा चुका है|

आज दिल्ली से बोकारो आने के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं के आत्मीय स्वागत से अभिभूत हूँ । सबों का आभार । कार्यकर्ताओं के जोश…

Pubblicato da Biranchi Narayan su Venerdì 15 novembre 2019

अब भला बाकी के नेता और प्रत्याशी क्यों पीछे रहे| कांग्रेस उम्मीदवार संजय कुमार अपने हर एक चुनावी सभा, जनता से मुलाकात की तस्वीरों के साथ फेसबुक पर दिन-रात पोस्ट कर रहे हैं| इसके साथ ही हर पोस्ट पर “अबकी बार संजय कुमार” के नारे भी लिखे जा रहे हैं|भले ही ये नारा विरोधी पार्टी का रह चुका है लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी इसे अपने नाम से जोड़कर ज्यादा से ज्यादा लोगों के बीच पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं|

गांव शहर की एक पुकार अबकी बार संजय कुमार

Pubblicato da Sanjay Kumar su Giovedì 21 novembre 2019

आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार ने तो मानो सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है| सोशल मीडिया पर सरकार की नाकामी बताने वाले वीडियो पोस्ट कर रहे हैं तथा इसी मुद्दे के साथ लोगों से खुद के लिए वोट की अपील कर रहे हैं| जेवीएम प्रत्याशी डॉ. प्रकाश कुमार भी कुछ इसी राह पर है तथा सोशल मीडिया के जरिए जनता के बीच सरकार की गलतियां और अधूरे काम गिनवा रहे|

बदलाव के इरादे के साथपरिवर्तन का वादा विकल्प नहींसंकल्प है ।#संघर्ष में साथ आइये बोकारो के बेहतर भविष्य के लिए ।#Vote4Bokaro#Vote4Aap#Vote4Harendra#Vote4Badlaw

Pubblicato da Harendra Nath su Giovedì 21 novembre 2019

इनके अलावा बिहार सरकार में मंत्री रह चुके अकलू राम महतो के बेटे राजेश महतो भी तमाम नेतागण की तरह सोशल मीडिया पर सक्रिय भूमिका निभाते हुए चुनाव प्रचार कर रहे हैं| एक समय पर भाजपा में सक्रिय भूमिका निभा चुके धर्मवीर सिंह भी इस बार पार्टी से अलग हट कर चुनाव में उतरने की तैयारी में नजर आ रहे हैं| इसकी भनक उनके फेसबुक पोस्ट से साफतौर पर सामने आ रही है|

सिर्फ बोकारो ही नहीं, बेरमो औऱ गोमिया के प्रत्याशियों के बीच सोशल मीडिया पर जीत दर्ज कराने की होड़ मची है| बेरमो भाजपा प्रत्याशी योगेश्वर महतो बाटुल द्वारा कल नामांकन दाखिल किया गया जिसे लेकर बाटुल के फेसबुक अकाउंट में ढेरों पोस्ट हुए| इसके अलावा चुनाव से जुड़ी उनकी तमाम छोटी बड़ी गतिविधि की जानकारी फेसबुक पर दी जा रही| वहीं गोमिया से भाजपा प्रत्याशी लक्ष्मण नायक ने भी फेसबुक के जरिए चुनाव का हल्लाबोल किया है|

इस सब के बीच जिला प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ इन पोस्ट्स पर नदर बनाये रखी है| प्रशासन इस बात का ध्यान रख रही की कोई भी पोस्ट आचार संहिता के विरूद्ध ना हो|

Leave a Reply