बोकारो में लॉक डाउन के तीसरे दिन दिखा असर, मुस्तैद रहा प्रशासन..

Bokaro

कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन के तीसरे दिन बोकारो और आसपास के क्षेत्रों में खास असर देखा गया। लॉकडाउन के पहले दिन सोमवार को बाजार में भीड़ नजर आई थी, मंगलवार को भीड़ देखी गई थी। हालाकिं आज बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। सभी में अंदर कोरोना का भय व्याप्त नजर आया और लोग बाजार में नजर नहीं आए। कुछ लोग जिन्हें दूध, सब्जी, दवा और कुछ जरूरी चीज की जरूरत थी, वे बाजार में नजर आए। इस दौरान प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद नजर आई। जो लोग बाहर घूम रहे थे, प्रशासन ने उन्हें घर जाने के लिए समझाया।

चौक-चौराहे पर भी बैरिकेडिंग लगाकर सभी आने-जाने वालों से पूछताछ की जा रही है। पश्चिम बंगाल और बोकारो बॉर्डर से आने-जाने वाले वाहनों और लोगों की सख्ती से जांच की जा रही है। जिले में धारा 144 लागू होने के बाद लोग बिना काम के बाहर निकल रहे हैं। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। जिला प्रशासन ने 31 मार्च तक धारा 144 लगा रखी है। ताकि लोग घर से कम निकलें और लोगों का संपर्क कम हाे। इसके बावजूद लोग घरों से निकल रहे हैं।

कोरोनावायरस जैसी महामारी के प्रकोप से बचने के लिए लोगों को आपसी मेलजोल को बंद करना ही होगा। लोग बिना वजह बाहर न निकलें। लोगों को जब कोई अत्यंत आवश्यक ही हो तभी वे बाहर को जाएं। बोकारो के लोगों को कोरोनावायरस के प्रकोप को गंभीरता से समझना होगा। सरकार व प्रशासन की इतनी कोशिशों के बावजूद यदि लॉकडाउन का मजाक यहां के लोग करते रहें, तो संक्रमण का खतरा और भी बढ़ जाएगा और यदि संक्रमण बढ़ा तो उपलब्ध स्वास्थ्य संसाधन आपकी जान बचाने में विफल हो जाएंगे। और इसके लिए जवाबदेह वे लोग होंगे जो लॉकडाउन का मजाक उड़ा कर सड़क पर बिना किसी काम के निकल रहे हैं।

फिलहाल आज अधिकतर लोग घरों में बंद रहे, लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं जो लॉकडॉउन को विफल बनाकर कोरोना वायरस के संक्रमण को बढ़ावा दे रहे हैं। इन लोगों को प्रशासन सख्ती से निपटने का काम करे।

कोरोना वायरस हेल्पलाइन नंबर
सेंट्रल हेल्पलाइन: 011- 23978046, 1075 (TOLL FREE)
झारखंड हेल्पलाइन :-104, 181
जिला नियंत्रण कक्ष हेल्पलाइन :- 06542-223475 , 06542-242402
100

Leave a Reply