महिलाओं के समूह ने भूखे मजदूरों को खिलाया खाना, दिया महीने भर का राशन..

COVID19

बोकारो : बोकारो के जैनामोड़ स्थित कुछ महिला समूहों ने गरीबों के बीच गुरूवार को राशन वितरण करवाया. कोरोना वायरस से जहां देश त्रस्त है, वहीं ऐसे कुछ संगठन देशवासियों के तरफ मदद का हांथ बढ़ा रहे हैं. आपको बता दें कि कोरोना वायरस से जंग में बोकारो की महिलाओं का कुछ समूह गरीबों की मदद कर रहा है.

इस लड़ाई में जैनामोड़ स्थित प्रदान संस्था तेजस्विनी महिला संघ जरीडीह, जागृति महिला संघ खैराचातर, ग्राम पंचायत एवं महिला समूहों के सहयोग से अजीम प्रेमजी जनकल्याण फाउंडेशन और शेयर एंड केअर फाउंडेशन ने आर्थिक सहयोग दिया. इन्होंने बुधवार को जरीडीह प्रखंड के सात पंचायतों में करीब 210 अति गरीब परिवारों के बीच राशन का पैकेट बांटा.

इस पैकेट में 10 किलो चावल, 01 किलो दाल, 02 किलो आलू, 0.5 लीटर सरसो तेल, 1 किलो नमक, एक हल्दी का पैकेट था. वहीं, स्वछता को ध्यान रखते हुए नहाने एवं कपडा धोने का साबुन भी पैकेट में दिया गया है. महिला समूह ने ही इन अति गरीब परिवारों को चिन्हित एवं उनका सूची तैयार किया था.

इसमें ऐसे लोग भी लाभुक बनें जिन्हें वाकई में इसकी जरूरत थी. गिरिडीह से मजदूरी करने आये 05 मजदूर, जो गोपालपुर गांव में रह रहे हैं. उन्हें भी चिन्हित कर राशन मुहैया करवाया गया. इसके अलावा समूह की सदस्यों ने बताया कि मजदूरों को खाने का अनाज ख़तम हो चूका था, और समूह के ही दिदिया उनलोगों को 2 दिन से खाना खिला रही थी. इन समुहों की आगे भी इसी तरह 2-3 दिन में लगभग 500 और वैसे परिवारों को राहत पहुंचाने की योजना है.

उन्होंने बताया कि संस्था की कोशिश हैं कि कोई भी भूखा ना रहे. खाद्या राहत के इलावा, दुर्गापुर पंचायत एवं मुरहुलसुदी पंचायत में जागरूकता अभियान भी चलाये जा रहे हैं.

Leave a Reply