लॉक डाउन में मंदिर बंद, लोगों ने घरों में रहकर की भगवान राम की पूजा..

COVID19, Festival

बोकारो में आज मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के जन्मोत्सव रामनवमी के अवसर पर श्रद्धालुओं ने जय श्रीराम का उद्घोष कर कोरोना वायरस के संक्रमण पर विजयश्री प्राप्त करने की प्रार्थना की। इस दौरान भगवान के प्रति लोगों की अगाध आस्था दिखी। लेकिन श्रद्धालुओं ने कोरोना को लेकर सतर्कता भी बरती। श्रद्धालुओं ने अपने घरों में ही रहकर भगवान श्रीराम व मां दुर्गा की अराधना की। एहतियातन इस बार तमाम अखाड़ों व संगठनों ने जुलूस नहीं निकालने का फैसला लिया था और मंदिरों को भी श्रद्धालुओं के लिए बंद रखा गया था।

बता दें की प्रत्येक वर्ष माराफारी के श्रद्धालु स्थानीय अखाड़ा समिति के नेतृत्व में रेल फाटक से जुलूस निकालते थे। बांसगोड़ा, रितुडीह, झोपड़ी कालोनी, आजाद नगर, बीएसएल एलएच, लकड़ी गोला, बारी को-आपरेटिव मोड़ सोनाटांड़ के अलावा बोकारो के विभिन्न सेक्टर के श्रद्धालु अपने अखाड़ा समिति के नेतृत्व में महावीरी ध्वज, झांकी के साथ जुलूस निकाल कर श्री राममंदिर गोलंबर सेक्टर एक पहुंचते थे। यहां अखाड़ची हैरतअंगेज खेल का प्रदर्शन करते थे। समिति की ओर से अखाड़ा के सदस्यों को सम्मानित किया जाता था। लेकिन इस वर्ष अखाड़ा समिति की ओर से जुलूस नहीं निकाला गया। पहली बार रामनवमी पर सड़कें सुनसान रहीं और जुलूस नहीं निकाला गया।

Leave a Reply