विवेकानंद जयंती के अवसर पर डीएवी-6 में युवा दिवस का आयोजन..

Education

डीएवी सेक्टर 6 विद्यालय में स्वामी विवेकानंद की 156वीं जयंतीधूमधाम से मनाई गयी| इस मौके पर आयोजित कार्यक्रम का विद्यालय के प्राचार्य अभिनव कुमार ने दीप प्रज्ज्वलित कर व पुष्प अर्पित कर शुभारंभ किया| प्राचार्य अभिनव कुमार ने स्वामी जी के बारे में बात करते हुए कहा कि स्वामी जी ज्ञान के प्रकाश पुंज थे| जिन्होंने आध्यात्मिक ज्ञान को संपूर्ण विश्व में फैलाया| भारतीय संस्कृति की महत्ता को परिभाषित करते हुए उन्होंने कहा कि व्यक्ति का चरित्र ही सर्वोपरि होता है| राष्ट्र की उन्नति के लिए चरित्रवान होना आवश्यक है|

प्राचार्य श्री अभिनव कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का कहना था कि उठो जागो और अपने लक्ष्य की प्राप्ति तक मत रुको| जीवन में सफलता प्राप्ति के लिए कठिन परिश्रम आवश्यक है| पवित्रता, धैर्य, दृढता तीनों सफलता के लिए आवश्यक हैं| विद्यार्थियों के पास अक्षय शक्तियों का भंडार है|

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में विद्यालय के शिक्षक बाल शेखर झा और सामाजिक विज्ञान के शिक्षक राजेश ने स्वामी जी के बताए आदर्शों पर प्रकाश डाला|वहीं विद्यालय की छठी कक्षा की छात्रा अश्लेषा यादव ने भी स्वामी विवेकानंद के ऊपर अपना भाषण प्रस्तुत किया| इनके अलावा कार्यक्रम में पहली कक्षा से लेकर 11वीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थी शामिल रहें|

Leave a Reply