बोकारो विधायक सामूहिक कन्यादान योजना के तहत आज 25 जोड़ों की होगी शादी..

Social

आज 19 जून को बोकारो विधायक सामूहिक कन्यादान योजना के तहत 25 जोड़ों की शादी होने जा रही है| लगातार चौथे साल होने जा रहे इस कार्यक्रम के लिए अभिभावकों ने अपनी बेटियों को रजिस्ट्रेशन करवाया था जिसके बाद कल उन सब की पूरी रिति-रिवाज के साथ शादी संपन्न करवाई जाएगी| ये योजना बोकारो विधानसभा क्षेत्र के उन अभिभावकों के लिए है जो आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं तथा बेटी की शादी के लिए सक्षम नहीं होते|

इस योजना के तहत आज आयोजित होने जा रहे सामूहिक विवाह समारोह को लेकर बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने अपनी धर्मपत्नी श्रीमती नीना नारायण के साथ मिलकर मंगलवार को प्रेसवार्ता की तथा समारोह से जुड़ी तमाम जानकारी दी| उन्होंने बताया की इस कन्यादान योजना के तहत 24 हिन्दू जोड़े तथा एक मुस्लिम जोड़े की शादी होगी|

बोकारो विधायक ने इस समारोह को समाजिक परिवर्तन की दिशा में एक छोटा सा प्रयास बताया| उन्होंने अपनी पत्नी श्रीमती नीना नारायण का धन्यवाद किया कि उनका बोकारो फाउंडेशन ट्रस्ट इस शुभ कार्य में हमेशा से सहयोग करता आ रहा है| पत्रकारों के एक सावल के जवाब में विधायक ने कहा कि सरकार की ओऱ से जो सामूहिक कन्यादान योजना है वो सरकारी प्रयास है और कल्याणकारी सरकार ऐसे कार्य करते रहती है| उन्होंने कहा “बोकारो विधायक सामूहिक कन्यादान योजना पूर्णत: व्यक्तिगत प्रयास है| विधायक होने के नाते समाजिक परिवर्तन में व्यक्तिगत भूमिका होनी चाहिए औऱ इसी लिए हम पति-पत्नी ने कुछ मित्रों के सहयोग से इस योजना को शुरू किया था| इसमें किसी प्रकार को कोई भी सरकारी सहयोग नहीं लिया गया है|”

विधायक श्री नारायण ने बताया कि शादी के बाद नवविवाहित जोड़ों उपहार स्वरूप बर्तन सेट, गैस चुल्हा सेट सिलेंडर के साथ, 24 इंच की अटैची, गद्दा, तकिया, चादर, सोनाटा की कलाई घड़ी वर-वधू दोनों के लिए, दुल्हन के लिए सिटी गोल्ड का हार सेट, दुल्हा का कुर्ता सेट, दुल्हन के लिए साड़ी, चांदी का पायल, बिछिया, और सोने का नोज पिन, श्रृंगार बॉक्स, तुलसी का पौधा, रामचरित मानस, कुरान-ए-पाक, दीवाल घड़ी, मिठाई, सिलिंग फैन, इमरजेंसी लाइट दिया जाएगा| इसके अलावा जिले के समाजसेवियों के तरफ से भेंट किया गया सामान भी वर-वधू को दिया जाएगा| कई लोग इसे पुण्य और महान कार्य मान कर विभिन्न सामान दान करते हैं|

विधायक श्री नारायण ने बताया कि चार साल से ये योजना चलती आ रही है और अब तक सवा सौ बेटियों का कन्यादान हो चुका है| विधायक ने बताय़ा कि उन्हें इस तरह के आयोजन की प्ररेणा नक्सल प्रभावित एक छोटे से गांव से मिला थी जहां गांववाले आर्थिक तंगी के बावजूद एक साथ मिलकर पांच बेटियों की शादी करवा रहे थे| जिसे देखते ही उन्हें ख्याल आया कि “अगर वो गरीब ग्रामीण ऐसा कर सकते हैं तो सक्षम होकर हम क्यों नहीं और फिर विधायक बनने के तुरंत बाद पत्नी के साथ मिलकर ये कार्य शुरू किया और ये सिलसिला आगे भी चलता रहेगा|”

पत्रकार ने जब विधायक से पूछा कि उन्हें इन बेटियों का पिता, अब्बा और फादर बनकर कैसा कैसा महसूस होका है तो उन्होंने जवाब में कहा कि “जन्म लेते ही बेटी समाज की बेटी हो जाती| कन्यादान कर जब उन बेटियों के हाथ में रामचरित मानस औऱ तुलसी का पौधा सौंपता हूं, या कुरान-ए-पाक सौंप कर उन्हें कार में बिठा कर विदा करता हूं तो महसूस होता है कि मैं पिता भी हूं, अब्बा भी हूं औऱ फादर भी हूं| इस नेक कार्य को अंजाम देकर लगता है जीवन सार्थक हो गया|”

वहीं श्रीमती नीना नारायण ने भी कहा कि बेटियों का कन्यादान कर उन्हें मन में काफी संतोष मिलता है| उन्होंने बताया कि शादी के बाद भी वो लोग उन बेटियों से मिलकर ये जानने की कोशिश करते हैं कि उनका वैवाहिक जीवन सही चल रहा या नहीं|

समारोह में मुख्य अतिथि विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ जगरनाथ शाही व बीएसएल के सीईओ पीके सिंह रहेंगे। कार्यक्रम का आयोजन शाम छह बजे से होगा। मौके पर भाजपा नेता अजित प्रसाद महतो, भाजपा जिला मंत्री कमलेश राय, सांसद प्रतिनिधि त्रिलोकी सिंह, जिला बीस सूत्री सदस्य संजय त्यागी, विकास कुमार आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply