पैदल यात्रा कर रहे प्रवासी मजदूरों के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग पर खोले गए 6 नए दाल-भात केंद्र..

Bokaro, COVID19, District Administration, News

लॉकडाउन फेज 4 के दौरान विधि व्यवस्था बहाल करने हेतु साथ ही कोविड-19 के संक्रमण से रोकथाम हेतु उपायुक्त श्री मुकेश कुमार ने विभिन्न स्थानों पर कई दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है। उपायुक्त के दिशा-निर्देश पर जिले के सभी दंडाधिकारी हर चेक पोस्ट पर लगातार नजर बनाए हुए हैं ताकि जिले में कोई भी व्यक्ति अनाधिकृत रूप से प्रवेश न कर सके।

इसके साथ ही अधिकारियों द्वारा लगातार उन सभी लोगों पर नजर रखी जा रही है जो अन्य राज्यों से जिले में प्रवेश करते हुए किसी दूसरे जिलों की ओर जा रहे हैं|ऐसे लोगों का जिला में प्रवेश करने के दौरान मेडिकल स्क्रीनिंग कराने के साथ-साथ उनके भोजन एवं ठहरने के पुख्ता इंतजाम भी किये जा रहे हैं। प्रशासन द्वाराउन प्रवासी मजदूरों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है जो अन्य राज्य या प्रदेश से पैदल या साइकिल के माध्यम से अपने गंतव्य जिला या घरों की ओर जा रहे हैं|बोकारो जिला प्रशासन द्वारा लगातारइन मजदूरों को चिन्हित कर उन्हें भोजन, स्वास्थ्य एवं वाहन की सुविधा प्रदान करते हुए उनके गंतव्य स्थल या जिला की ओर भेजने की पहल की जा रही है। साथ ही प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि राष्ट्रीय राजमार्गों या अन्य मार्ग पर प्रवासी मजदूरों के ठहरने एवं खाने की व्यवस्था सुचारू रूप से बहाल हो।

इसी क्रम में आज प्रवासी मजदूरों के लिए छह नए प्रवासी मजदूर दाल-भातकेंद्र खोला गयेजो कि पिंड्राजोरा,बिरखाम,तेलमच्चो ब्रिज, पेटरवार, गोमिया, एवं आहारडीह मोड़ पर स्थित हैं|

जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री सादात अनवर ने बताया कि उपायुक्त के आदेश पर प्रवासी मजदूरों का विशेष रुप से ध्यान रखते हुए जिले में6 नए भोजन केंद्र खोले गए हैं| जहां प्रवासी मजदूरों को प्रतिदिन भोजनकराने की पहल की जाएगी। वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग से होकर गुजरने वाले सभी प्रवासी मजदूरों के लिए सात केंद्र पहले से ही चल रहे हैं जहां पर प्रतिदिन मजदूरों को जिला प्रशासन की ओऱ से भोजन प्रदान किया जा रहा है|इसके उपरांत ही वो अपने गंतव्य स्थल की ओर जा रहे हैं।

उपायुक्त के निर्देश पर जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा अंचल अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में प्रवासी मजदूरों के लिए ठहरने एवं भोजन हेतु लगातार व्यवस्थाएं सुनिश्चित करउन्हें सुविधा प्रदान करने में लगे हुए हैं। 2 दिन के लगातार बारिश के बावजूद भी सभी दंडाधिकारी चौकसी के साथ चेक पोस्ट तथा प्रवासी मजदूरों को सहायता प्रदान करने में लगे हुए हैं।

उधर लॉकडाउन फेज 4 के दौरान गृह मंत्रालय के दिशा-निर्देश पर जिले में कई गतिविधियों को छूट दी गई हैं|इसी के तहत उपायुक्त श्री मुकेश कुमार द्वारा किताब दुकान, इलेक्ट्रॉनिक्स दुकान तथा अन्य दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है|साथ ही इस लॉकडाउन के दौरान लघु तथा कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने हेतु भी पहल की जा रही है| इसके अलावा अंतर राज्य जिला में परिवहन बहाल करने हेतु चार पहिया वाहनों की भी अनुमति जिला प्रशासन के माध्यम से प्रदान की गई है।

Leave a Reply