गरगा नदी के संगम स्थल पर दो दिवसीय साईकिल सह संवाद यात्रा का समापन..

Bokaro, News, Social

सामाजिक व पर्यावरणिक संस्था वर्ल्ड ग्रीन लाइन द्वारा चलाया जा रहा दो दिवसीय गरगा साईकिल सह संवाद यात्रा आज संपन्न हो गया| आज अंतिम दिन ये यात्रा वनशिमली रेलवे फाटक से पुनः प्रारंभ हो कर बारी-कॉपरेटिव, तेलीडीह बस्ती, चास बायपास मेन रोड होते हुए गरगा नदी के संगम स्थल तेलमोच्चो ब्रिज दामोदर नदी पहुंची| इस यात्रा के दौरान सदस्यों द्वारा विभिन्न गांवों एवं सार्वजनिक स्थलों में आम सभा व गरगा लोक गीत के माध्यम से लोगों को नदी बचाव के लिए जागरूक किया| इसके साथ ही लोगों के बीच पर्चा बांट कर उन्हें गरगा नदी को बचाने का संदेश दिया।

संस्था की सचिव प्रीति रंजन ने बताया कि गरगा को अविरल बहने के लिए सभी का योगदान महत्वपूर्ण है।पानी के बिना जीवन असंभव है और पानी का मुख्य स्रोत नदी ही है। ऐसे में नदी नहीं रहेगी तो धरती पर जीवन असंभव है। यात्रा में शामिल स्वच्छ गरगा अभियान के सदस्य अमृत बाउरी ने कहा कि जब तक गरगा नदी नाला से नदी के रूप नहीं परिवर्तित होगा तब तक लोगों के सहयोग से ये अभियान चलता रहेगा।

इस साईकिल सह संवाद यात्रा में कल्लोल राय, जुनैद रहमान, तापस दस, शानू कस्यप, सीतेश आज़ाद, उमेश कुमार तुरी, जीवन जगन्नाथ, सतीश चंद्र गुप्ता, अविनास, सुभाष महतो, बिधान, सुभम मेहता आदि उपस्थित थे।

वर्ल्ड ग्रीन लाइन संस्था की ओऱ से गरगा नदी को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए शुरू की गई दो दिवसीय साईकिल संवाद यात्रा..

Pubblicato da Bokaro Updates su Mercoledì 29 maggio 2019

Leave a Reply