डीपीएस चास में सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘उन्मेष‘ का रंगारंग आयोजन..

Education

डीपीएस चास में मंगलवार को द्वैवार्षिक अंतर सदन कार्यक्रम ‘उन्मेष‘ का भव्य आयोजन किया गया| कार्यक्रम का शुभांरम गणमान्य अतिथियों के कर कमलों द्वारा द्वीप प्रज्जवलित कर किया गया।इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि उपस्थितबोकारो जिला उपायुक्तमुकेश कुमारके स्वागत हेतु भागवतगीता की एक लघु प्रति तथा बालवृक्ष प्रदान करके की गई। इसके उपरांत उपस्थित अन्य गणमान्य अतिथियों को भी भागवत गीता की लघु प्रति एवं गुलाब की कली प्रदान कर उनका स्वागत एवं अभिनंदन किया गया।

कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में उपायुक्त ने कहा कि मैं बच्चों की प्रतिभा एवं क्षमता को देखकर मुग्ध हूं, चाहे वो गायन हो, नृत्य हो या वाद्ययंत्र हो यहां के बच्चों की शैक्षणिक क्षमता एवं उपलब्धियां तो सर्वविदित हैं ही। बच्चो के सर्वांगीण विकास में शिक्षक एवं अभिभावकों की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि जीवन में सफल होने हेतु साहस, विश्वास व समर्पण भाव होना अति आवश्यक है| उन्होंने कार्यक्रम की हार्दिक प्रशंसा की तथा बच्चों की स्वर्णिम भविष्य की कामना की।

इस अवसर पर विद्यालय की मुख्य संरक्षिका श्रीमती हेमलता एस. मोहन ने अपने सम्भाषण में कहा कि विद्यालय, विद्यार्थियों के बहुआयामी प्रतिभा को विकसित कर उनको एक क्षमतावान व्यक्तित्व में परिवर्तित करने का माध्यम है। एक विद्यालय इस परंपरा को सार्थक करता है, डीपीएस चास विद्यार्थियों को अपने गुणों एवं दक्षता को विकसित करने एवं निखारने हेतु अनवरत मार्गदर्शन करता है, जिससे बच्चे अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकते हैं।

विद्यालय की प्रधानध्यापिका श्रीमती सिन्हा ने ‘उन्मेष‘ जैसे कार्यक्रम की उपयोगिता बताई| उन्होंने कहा कि ऐसे कार्यक्रम बच्चों की रूचि एवं प्रतिभा को सकारात्मक गति प्रदान करते है तथा उनमें सहयोग एवं अनुशासन की आवश्यकता जीवन में क्यों महत्वपूर्ण है,इस सूत्र को जीवंत उदाहरण के माध्यम से आत्मसात करने का एक अवसर प्रदान करते है। जिन बच्चों ने इन गुणों को अपने जीवन में स्वीकार कर लिया। उनका जीवन सफलता के चरम पर पहुंच जाएगा।

सांस्कृतिक कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए सतलज सदन की वॉर्डन श्रीमती सोनी कुमार ने सभी गणमान्य अतिथियों एवं अभिभावकगण का स्वागत करते हुए उन सभी का हार्दिक अभिनंदन किया| विद्यालय के बच्चों ने भी विभिन्न गीत व नृत्य कार्यक्रम प्रस्तुत किये|

इस भव्य कार्यक्रम में विद्यालय की मुख्य संरक्षिका श्रीमती हेमलता एस. मोहन, (अध्यक्ष सीसीआरटी, नई दिल्ली, भारत सरकार), श्री एन. मुरलीधन (प्रो. वाइस चेयरमैन, डीपीएस, चास), विघालय की प्राचार्या श्रीमती नीलकमल सिन्हा, श्री सुरेश अग्रवाल (सचिव, डीएस मेमोरियल सोसाइटी), श्री श्याम मोह (पूर्व महाप्रबंधक, सेल, बोकारो) तथा पुष्पा अग्रवाल (निदेशक, पुष्पसनसाइन इंटरनेशनल स्कूल, चास) मुख्य अध्यापिका श्रीमती रश्मि सिन्हा एवं निर्देशिका परवेक्षक डॉ. पदमालया दाश चौधरी उपस्थित थे।चेनाब सदन के वार्डेन श्री बीरेन्द्र सिंह उपस्थित अतिथियों, अभिभावकों, शिक्षकगण एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारियों का धन्यवादन ज्ञापन किया तथा कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।

Leave a Reply