वट-सावित्री पूजा: सुहागिनों ने की पति के लंबे उम्र की कामना, वट वृक्षों पर जुटी भीड़..

Bokaro, COVID19, Festival, LockDown, News

पति की लंबी उम्र और परिवार की सुख-शांति के लिए आज सुहागिनों ने वट-सावित्री की व्रत-पूजा की| बोकारो में अलग-अलग जगहों पर महिलाओं ने बरगद के पेड़ के पास विधि-विधान से पूजा-अर्चना की| सेक्टर-1 राम मंदिर, सेक्टर-4 सूर्य मंदिर व सेक्टर-9सी मंदिर के पास पूजा करने महिलाओं की खास भीड़ देखने को मिली| पति के दीर्घायु कामना के बीच इन महिलाओं ने कोरोना संक्रमण के खतरे को तरजीह भी नहीं दी| ना तो किसी महिला ने मास्क लगाया था ना किसी तरह की सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया| सभी ने बरगद पेड़ के पास एकजुट होकर पूजा की|

पुराणों में वट-सावित्री पूजा को विशेष महत्व दी गई है| मान्यता है कि वट यानि कि बरगद के पेड़ में ब्रह्मा, विष्णु व महेश तीनों का वास है। इसलिए इस पेड़ के नीचे बैठकर पूजा करने से हर मनोकामना पूरी होती है| इस व्रत में सुहागिन महिलाएं बरगद पेड़ के पास पूजा कर उसके चारों ओर घूमकर रक्षा सूत्र बांधती हैं। इसके अलावा पुजारी से सत्यवान और सावित्री की कथा सुनती हैं।

बोकरो में भी सुबह-सुबह सुहागिन महिलाएं सोलह श्रंगार कर पूजन के लिए निकली| पूजा के लिए माता सावित्री की मूर्ति, बांस का पंखा,लाल धागा,कलश, मिट्टी का दीपक, फल-फूल, आदि लेकर ये महिलाएं आसपास के बरगद के पेड़ पास पहुंचकर पूजा की तथा पति के लंबी उम्र की कामना की|

Leave a Reply